मीरा भाईन्दर(सिटी न्यूज़ मुंबई) मीरा भायंदर की लोक संख्या १२ लाख से उपर है विविध धर्म के मानने वाले लोग यहा रहते है राज्य सरकार ने जब से लॉक डाउन घोषित किया है तब से यहाँ पर भी लॉक डाउन चल रहा है  शहर में दिन ब दिन पेशेंट बढ़ रहे है मीरा भायंदर में राज्य सरकार इस सन्दर्भ में सावस्थ विभाग की टीम भेज कर जांच करे नागरिक लॉक डाउन का कढाई से पालन कर रहे है फिर भी प्रसार प्रचार,रोकथाम सही तरह से नही हो पा रहा है, ऐसा पत्र आज मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को विधायक प्रताप सरनाईक ने लिख कर मांग की है की राज्य सरकार हेल्थ विभाग की टीम भेज कर जायजा ले.

विधायक प्रताप सरनाईक ने अपने पत्र में कहा की ४ अप्रेल को पालक मंत्री एकनाथ शिंदे की अध्यक्षता में सांसद राजन विचारे,विधायक गीता जैन विभागीय आयुक्त शिवाजीराव दौंड कलेक्टर राजेश नर्वेकर महापौर ज्योत्स्ना ह्स्नाले प्रताप सरनाईक व् मनपा आयुक्त चंद्रकांत डांगे मौजूद थे इस बैठक में जो भी तय हुआ था उस पर अमल एक महीना से हो नही पा रहा था विभागीय आयुक्त ने खिंचाई की तब सार्वजनिक रसोई घर शुरू किया गया है ,शहर की सार्वजनिक शोचालय, विविध संस्था के माध्यम से स्व्च्छता करवाने का आदेश दिया गया था,पंडित भीमसेन जोशी अस्पताल (टेम्बा) मरीज के इलाज के लिए जरूरी सामन की लिस्ट राज्य सरकार को भेजने की बात की गयी थी.

प्रताप सरनाईक ने कहा की मनपा आयुक्त ने सार्वजनिक किचन शुरू करने में देरी की है साथ है जो भोजन परोसा जा रहा है उसकी शिकायते प्राप्त हो रही है.उन्होंने कहा की टेम्बा अस्पताल,क्वारेंटाईन में मनमानी चल रही है कोई किसी के नियत्रंन में नही है.

सरनाईक ने अपने पत्र में कहा है की बरसात का मौसम सर पर आ गया है नाले,गटर साफ साफाई समय पर ना हुई तो भविष में दुबारा महामहरी फैलने का खतरा बढ़ सकता है.

 साथ ही उन्होंने कहा की मुस्लिम समाज का रमदान महीना कल से शरू हो रहा है उन्हें सहेरी व् इफ्तारी के लिए जीवन आवश्यक वस्तु समय पर मिलना चाहिये था इस पर भी मुस्लिम समाज के लोकप्रतिनिधि व प्रतिष्ट नगरिको से भी कोई चर्चा नही की गयी है.

विधायक प्रताप सरनाईक ने अपने पत्र में कहा है की मीरा भायंदर में कोरोना वायरस पर उपाय योजना  व् नियत्रंन में लाने के लिए राज्य सरकार स्वास्थ विभाग के शिष्ठमंडल  जल्द से जल्द भेजे  ऐसा पत्र मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को लिखा है.कुल मिलाकर मनपा आयुक्त के कामकाज से खफा है फैसले लेने में किसी को विशवास में नही लेने का आरोप लगाया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here