मनपा के stp गैस चेम्बर में 3 मजदूरों की दर्दनाक मौत जुम्मेदारो को बख्शा नही जायेगा – मनपा आयुक्त खतगावकर बदबू को लेकर स्थानीय सोसायटियो में आक्रोश

मीरारोड(शकील शेख सिटी न्यूज़ मुंबई) कल सुरष्टि के प्रेम नगर के एसटीपी के गैस चेम्बर में तीन गरीब मजदूरो की मौत हो गयी है जिस के लिए मनपा के अधिकारी फिर एस पी एम एल जुम्मेदार है चर्चा का विषय बन गया है।

उलेखनीय है कि कल सुरष्टि के एस टी पी यानी मल मूत्र,गन्दा पानी को साफ बनाकर स्वछ उपयोगी हेतु बनाय जाने के प्रोजेक्ट में लगातर बदबू की शिकायतें आ रही थी जिस के चलते ठेकेदार ने 4 मजदूरों को मेन चेम्बर से दूर आउटलेट चेम्बर जिस पर 4 फर्शी (लादी) रखी हुई थी उस मे से दो लादी हटाकर जल्दबाजी में मजदूर नीचे गैस चमेबर में वाल खोलने के लिए भेजा था जिन्हें सुरक्षा या गैस चेम्बर में कार्य करने का कोई अनुभव नही था।जिस के चलते पहला मजदूर चेम्बर के ऊपर लादी हटाकर सीडी के माध्यम से नीचे उतरा तो उसे गैस की गन्दी बदबू के कारण चक्कर आकर गिरा जिसे बचाने के लिए दूसरा मजदूर ने प्रेयत्न किया उसे भी यही अनुभव आया वह भी चेम्बर में नीचे गिर गया जिस के बाद तीसरा मजदूर भी दोनों की चीख पुकार पर नीचे गैस चेम्बर में सीडी के माध्यम से बचाने के लिए गया तो वह भी गैस की बदबू से बेहोंश हो गया जिस के बाद चौथा मजदूर गया उसे भी चक्कर आ गए नीचे गिरा तबतक उसे स्थानीय लोगो ने बचा लिया इस हादसे में कुल तीन युवा मजदूर की दर्द नाक मौत हो गयी है।तीनो के नाम देर शाम तक पता नही चल पाय थे

इस सन्दर्भ में मनपा आयुक्त बालाजी खतगावकर ने मामले की जांच करने के लिए सीटी इंजीनियर को आदेश दिया है,साथ ही मनपा ने ठेकेदार के साइड सुपरवाइजर के खिलाफ मामला दर्ज करने के आदेश भी दिये है,खतगावकर ने बताया कि जिस स्थान पर यह घटना हुई वहा पर मजदूरों ने जल्द बाजी दिखाए जाने से हुई है यह चेम्बर आउटलेट का था जिस में इस तरह की घटना होने की संभवना कम रहती है,गैस चेम्बर के ऊपर की चारो लादी हटाने के बाद 2 मिनट तक मजदूरों ने इंतजार करना चाहिए था ताकि चेम्बर की गैस बाहर आ जाती लेकिन पहले मजदूर ने इस बात को नजर अंदाज करते हुए सिर्फ दो लादी हटाई और तुरन्त नीचे उतरा जिसे गैस का सामना करना पड़ा पहले मजदूर को बचाने के चक्करमें अन्य दो मजदूर भी अपनी जान गंवा बैठे है,इस संदर्भ में मजदूर के पीढ़ित परिवार को हर संभव मदद करने की बात मनपा आयुक्त बालाजी खतगावर ने की है उन्होंने कहा कि मजदूरों को उनका हक्क कंपनी से दिलवाया जायेगा।

एसटीपी की सुरक्षा मात्र एक वॉचमैन पर हो रही थी,स्थानीय लोगो को इस प्रोजेक्ट से स्वास्थ का नुकसान हो रहा था लगातार मनपा को स्थानीय लोगो ने शिकायते की है लेकिन मनपा अधिकारियों के कान पर जु तक नही रेंगी,एसटीपी के आजु बाजू पूरी तरह से खुला हुआ है स्थानी बच्चो की जान को खतरा है फिर भी मनपा ने अबतक कोई सुरक्षा के इंतजाम नही किया है, और ना ही एस पी एम एल कंपनी ने किया है,
तीन मजदूरों की मौत के लिए ठेकेदार या या फिर मनपा जुमैदार है यह चर्चा का विषय बना हुआ है पुलिस अब इस मामले में किस किस पर एफ आई आर दर्ज करती है यह कुछ ही समय मे पता चल जायेगा या फिर मौके पर मौजूद spml कंपनी के इंजीनियर सुपर वाइजर या फिर मैनेजर को बलि का बकरा बनाकर एस पी एम एल के मुख्य मालक को बख्स देंगी यह तो आने वाला समय ही बताएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here