७/११ मुंबई लोकल बम्ब ब्लास्ट के मुजरिम मुज्जम्मिल शेख को सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद पिता के अंतिम दर्शन का मौका

मीरारोड(सिटी न्यूज़ मुंबई) ७/११ मुंबई लोकल बम ब्लास्ट के मुजरिम मुजम्मिल शेख उम्र २५ वर्ष को सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद पिता अताऊर रहेमान के देहांत पर अंतिम संस्कार के लिए अनुमती पर आज मिरारोड़ के नयानगर के तिरुपती कों हौ सोसायटी के उसके घर नासिक जेल से भारी बन्दोबस्त में कल सुबहा करीब दस बजे के आस पास लाया गया था ओर शाम ६ बजे उसे ले वापिस ले जाया गया है.दिन भर उसके घर के पास पुलिस का पहेरा लगा  हुआ था.

उलेखनीय है की मुजम्मिल शेख जोकि नासिक के सेंटर जेल में ७/११ मुंबई लोकल बमब्लास्ट का अपराधी है,कोर्ट ट्रायल के बाद उसे उम्र कैद की सजा दी गयी है.

मुजम्मिल शेख के पिता अताऊर रहेमान की उम्र करीब ६५ वर्ष बताई जा रही है ३ दिन पूर्व बिमारी के चलते देहांत हो गया था,मुज्ज्मिल शेख को पिता के अंतिम दर्शन करवाने के लिए उसके परिजनों को सुप्रीम कोर्ट से अनुमति लेनी पड़ी है कल रात १२ से पहले मुस्ज्मिल को नासिक की सेंटर जेल में भारी बन्दोबस्त के बिच लाया ओर ले जाया गया था,मुजम्मिल शेख के आने के बाद मुंबई पुलिस,ठाणे ग्रामीण पुलिस व एटीएस के अधिकारी भी साए की तरह मुज्ज्मिल के साथ रहे है.

मुजम्मिल शेख के पिता को उसके सामने दफनाया नही गया था,उसे मुजम्मिल शेख को मुंबई पुलिस ने गिरफ्तार किया था मुंबई लोकल बम ब्लास्ट में उसके अन्य २ भाई में शामिल थे जिस में से के भाई अबतक फरार है,उसके नाम से इन्टरपोल रेड नोटिस भी निकाली जा चुकी है,मुजम्मिल के पिता तिरुपती को हो  सोसायटी के सचिव भी थे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here