मीरा भाईंदर (सिटी न्यूज़ मुंबई) राज्य के मंत्री मण्डल की बैठक में दहिसर से भाईंदर तक के मेट्रो देने की मंजूरी मिलते ही शिवसेना भाजपा में श्रय की लढाई बढ़ गयी है एक ओर शिवसेना दवा कर रही है कि मीरा भाईंदर में हामरे आनदोलन के कारण मंत्री मण्डल को मेट्रो को मान्यता देने पर मजबूर होना पड़ा वही पर भाजपा के विधायक नरेंद्र महेता ने शिवसेना की खिल्ली उड़ाते हुए कहा कि अगर उनके आंदोलन की कारण  मेट्रो आ रही है ,तो में प्रथना करता हु की वह जिंदगी भर इस  तरह के आंदोलन उनके नसीब में आये और मीरा भाईंदर का विकास उनके आंदोलन के कारण होते रहे।
एक ओर भाजपा ने शहर मे बड़े बड़े होर्डिंग लगाकर मुख्यमंत्री  देवेन्द्र फडणवीस सरकार के फैसले का स्वागत किया है तो दूसरी ओर शिवसेना भी अपनी पीठ थप थापा रही कि उनके जन आंदोलन तथा विधान सभा मे लगातर मेट्रो के लिए किए आंदोलन के कारण यह संभव हुआ है।
 विधायक नरेंद्र महेता ने पत्रकार परिषद लेकर जानकरी दी कि उन्होंने अग्रि भवन, दफन भूमि,मेट्रो,बुद्ध विहार , मीरा भाईंदर में 180 करोड़ के रास्ते,दहिसर से नायगांव के लिए 235 करोड़ रु का रास्ता,जैसे प्रकल्पों को मंजूरी दिलवाने के कार्य किया है,
 इस के अलावा मीरा भाईंदर में अडिशनल तहे सिलदार के पद  को मंजूरी, व कमिश्नरेट को मंजूरी दिलवाने का कार्य किया है,महेता ने कहा कि शिवसेना कांग्रेस की तरह मूर्खता कर रही है,विधायक प्रताप सरनाईक का नाम न लेते हुए कहा कि उनका विधायकी का दूसरा टर्म है फिर भी अनुभव की कमी है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here