मिरारोड़ (सिटी न्यूज़ मुंबई)- आरक्षण को लेकर जहा महाराष्ट्र भर में आन्दोलन हो रहा है वही मिराभाईन्दर शहर में भी अनेक जगह पर मराठा समाज द्वारा बंद का असर देखने को मिला| भाइंदर पूर्व से लेकर काशीमीरा तक के अनेक मराठा आन्दोलनकारियों ने जगह जगह रैली निकाल कर दुकानदारो से नम्रता से दुकाने बंद रखने की अपील की जिसके चलते दुकानदारो ने भी अपनी अपनी दुकाने बंद रखी| हर चौराहे और नाको पर पुलिस का भारी बंदोबस्त देखने को मिला जबकि काशिमिरा पुलिस थाणे के सामने एम्बुलेंस के साथ पुलिस तैनात दिखाई दी|

नौकरियों में आरक्षण को लेकर काफी वर्षो से चल रहे मराठा आरक्षण की आग अब धीरे धीरे बढ़ने लगी है| हाल ही में मराठवाडा में एक काकासाहेब शिंदे नामक एक युवक ने नदी में कूदकर अपनी जान दे दी| जिसके कारण पुरे महाराष्ट्र में मराठा आरक्षण की आग और भड़क गयी| महाराष्ट्र और मुंबई में बंद का मिला जुला असर देखने को मिला | मिराभाईन्दर शहर में भी मराठा जिल्हा समन्वय समिति द्वारा शहर बंद की मांग की गयी| दोपहर में नवघर परिसर से निकल कर रैली गोल्डन नेस्ट सर्कल पर पहुची इस दौरान मराठा महिला कार्यकर्ताओ ने रस्ते पर बैठ कर रास्ता जाम करने की कोशीश की परन्तु पुलिस की मुस्तैदी के चलते यातायात बहाल किया गया

रैली के दौरान मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडवनिस मुर्दाबाद की नारेबाजी भी की गयी| “एक मराठा लाख मराठा”, जय भवानी जय शिवाजी के नारों से गोल्डन नेस्ट परिसर गूंज उठा| मराठा युवाओ का उत्साह देखने लायक रहा| अनेक राजनितिक दलों के पदाधिकारियों ने भी मराठा आरक्षण आन्दोलन में हिस्सा लिया| कुल मिलाकर मिराभाईन्दर शहर में मराठा समाज द्वारा बंद का मिला जुला असर शहरवासियो को देखने को मिला| पुलिस ने भी बंद के दौरान अपनी ड्यूटी बखूबी अंजाम दी| कही पर भी आन्दोलन को हींसक रूप में बदलने नहीं दिया गया|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here